Hindi Essays, English Essays, Hindi Articles, Hindi Jokes, Hindi News, Hindi Nibandh, Hindi Letter Writing, Hindi Quotes, Hindi Biographies

Hindi Essay on "Samajhdar wah jo Samajhdari kare", "समझदार वह जो समझदारी करे " for Students Complete Hindi Speech, Paragraph for class 5, 6, 7, 8, 9, and 10 students in Hindi Language.

समझदार वह जो समझदारी करे 
Samajhdar wah jo Samajhdari kare

इस पंक्ति से यह पता चलता है कि व्यक्ति की अन्दरूनी सुन्दरता क्या होती है। आमतौर पर गोरे रंग, सुन्दर आंखें तथा लाल गालों वाले व्यक्ति को सुन्दर कहा जाता है। किन्तु केवल यह सुन्दरता देखना का नजरिया गलत है। यह तो केवल शारीरिक सुन्दरता है। ज्यादातर तो मेक-अप द्वारा ऐसी सुन्दरता प्राप्त की जाती है। सुन्दरता तो अन्दर से होती है। यह प्राकृतिक होती है। सुन्दर व्यक्ति वह है जो कार्य भी सुन्दर तथा अच्छे करे। वह व्यक्ति जिसका व्यक्तित्व अच्छा हो, जो ईमानदार तथा उच्च विचारों वाला हो वही सुन्दर तथा समझदार कहलाता है। कुछ व्यक्ति चेहरे से मुस्कुराते हों किन्तु उनका हृदय बुरा हो सकता है। इतिहास गवाह है ऐसे अनेक व्यक्ति हुए हैं जो शारीरिक रूप से सुन्दर नहीं थे किन्तु उनके विचार तथा कार्य आदर्शवादी थे। वह अपने अच्छे उद्देश्यों के लिए जीए तथा मर गए। उनके विचारों तथा कार्यों ने उन्हें अमर कर दिया। उन्हें उनके महान् कार्यों तथा दूसरों के लिए दी गई कुर्बानियों के लिए याद किया जाता है। उन्हें समझदार समझा जाता है क्योंकि उन्होंने कार्य भी समझदारी वाले किए।



Post a Comment

0 Comments