Hindi Essays, English Essays, Hindi Articles, Hindi Jokes, Hindi News, Hindi Nibandh, Hindi Letter Writing, Hindi Quotes, Hindi Biographies

Mitra ko uske bhai ki shadi me upasthit na hone par patra, " मित्र को उसके भाई के विवाह में उपस्थित न होने पर पत्र" Hindi Letter for Class 6, 7, 8, 9, 10 and 12.


अपने मित्र को एक पत्र लिख कर बताएं कि किसी कारण वश तुम उसके भाई के विवाह में उपस्थित नहीं हो सके।

172-मॉडल टाऊन,
नई दिल्ली।
जनवरी 10, 20....

मेरे प्रिय रविन्द्र,
डर है कि तुम मुझसे नाराज़ होगे। मैं तुम्हारे भाई के विवाह पर उपस्थित नहीं हो सका। इसके पीछे एक कारण था।

मैं बहुत अच्छे से घर से तैयार हो कर तुम्हारे भाई की शादी पर आने के लिए निकला। जैसे ही मैं अपना स्कूटर चालू करने लगा, मेरी माता जी गिर गई, उनकी टांग टूट गई। मेरे पिता जी घर पर नहीं थे। उन्हें तुरंत अस्पताल लेकर जाना पड़ा। उन्हें चौबीस घंटे ध्यान की आवश्यकता थी।

मुझे तुम्हारे साथ होना बहुत अच्छा लगता। किन्तु ईश्वर को कुछ और ही मंजूर था। मुझे आशा है कि तुम मुझसे और गुस्सा नहीं होगे। अपने माता-पिता को मेरी शुभकामनाएं देना। मैं किसी दिन तुम्हारे घर आऊंगा।
शुभकामनाओं सहित।

तुम्हारा विश्वासपात्र,
तरलोक चन्द।




Post a Comment

0 Comments