Hindi Essays, English Essays, Hindi Articles, Hindi Jokes, Hindi News, Hindi Nibandh, Hindi Letter Writing, Hindi Quotes, Hindi Biographies

Hindi Essay on "Karne se Pehle Khub Socho Vicharo","करने से पहले खूब सोचो विचारो " for Students Complete Hindi Speech, Paragraph for class 5, 6, 7, 8, 9, 10, 12 Examination.

 करने से पहले खूब सोचो विचारो 
Karne se Pehle Khub Socho Vicharo


जलदबाजी में बरबादी निहित हैं - यह सर्व विधित है । किसी कार्य के शुरु करने के पहले खूब सोच विचार कर लेना चाहिये । ईश्वर ने मनुष्य के लिए ही सोचने समझने की, अच्छे बरे के परखने की शक्ति दी है, जो दसरे जीवों के लिए नहीं दी गयी है । इस सोचने समझने की शक्ति का उपयोग बुद्धिमानी से करना चाहिये । किसी कार्य के शरू करने के पहले उसके पक्ष विपक्ष में खूब सोच विचार करना चाहिये । उसके मताबिक कार्य के करने या न करने का निर्णय करना चाहिये । उस कार्य के करने का फल अच्छा होगा तो जरूर किया जाये । नहीं तो ऐसे काम करने के विचार ही छोड दें। जो भी काम बिना सोचे विचार किया जाय और उसके नतीजे पर नजर रखकर न किया जाय तो असफलता और निराशा सुनिश्चित हैं। बिना सोचे विचारे काम करना मानों कोई गहरे अंधेरे में अथाह खाई में कूद पड़ता है। 




Post a Comment

0 Comments